Tag: dhatu rog ka ayurvedic ilaj

Dhatu Rog Ko Ayurvedic Upchar Se Kaise Thik Karen

Dhatu Rog Ko Ayurvedic Upchar Se Kaise Thik Karen

ये आयुर्वेदिक उपाय करें, भूल जाओगे धातु रोग! धातु रोग(Spermatorrhea)- किसी पुरूष के मन में कामेच्छा जागृत होने पर या अति उत्तेजना में आकर उसके लिंग में स्वतः ही सख्तपन व तनाव आ जाना स्वाभाविक प्रक्रिया है। यह कामेच्छा की भावना इतनी प्रबल होती है कि व्यक्ति के पुरूषांग के मुखाने से पानी के समान पतला-सा …

+ Read More

Dhatu Rog Ko Door Karne Ke Liye Ayurvedic Upchar

Dhatu Rog Ko Door Karne Ke Liye Ayurvedic Upchar

पौरूष ग्रंथि से तरल स्राव निकलना, धातु रोग, शुक्रमेह (Prostatorrhea) परिचय- पुरूषेन्द्रिय(लिंग, Peins) से पानी जैसा चिपचिपा स्राव निकलना ही इस रोग का परिचायक है। कारण- मूत्र मार्ग या गुदा में खराश होना, पाचन संस्थान की गड़बड़ी, अति कामोत्तेजना, कब्ज़, उदर कृमि(पेट के कीड़े), मूत्राशय में पथरी, बार-बार लिंग को सहलाना, अश्लील चित्र देखना, अश्लील …

+ Read More

Dhatu Rog Ko Dur Karne Ka Desi Ayurvedic Upchar

Dhatu Rog Ko Dur Karne Ka Desi Ayurvedic Upchar

धातु रोग, शुक्रपात (Spermatorrhoea) अत्यधिक कामवासना जागने पर अथवा उत्तेजित होने पर पुरूष के गुप्तांग में स्वतः ही कड़ापन(तनाव) आ जाता है और पुरूष संभोग के लिए लालायित होने लगता है। इस स्थिति में पुरूष के शिश्न के अग्र भाग में पानी के रंग जैसा पतला व चिपचिपा तरल(लेस) प्रदर्शित होने लगता है, किन्तु इसकी मात्रा …

+ Read More