Tag: Dhat Girne Ki Samasya Ko Ayurved Se Kare Door

Dhat Girna Ki Samasya Ko Karen Pura Jad Se Khatam

Dhat Girna Ki Samasya Ko Karen Pura Jad Se Khatam

धातु रोग, प्रमेह(Spermatorrhoea)- पुरूषों में बिना इच्छा के मल-मूत्र के दौरान हल्का-सा जोर या दबाव देने पर वीर्य पतले पानी के रूप में टकपने लगता है, जिसे धातु रोग या प्रमेह कहा जाता है। जब बहुत ज्यादा सेक्स के या फिर अश्लील विचारों के बारे में सोचते रहने से उत्तेजनावश एकाएक लिंग में तनाव आने …

+ Read More

Dhat Girna Ki Samasya ka Desi Gharelu Samadhaan

Dhat Girna Ki Samasya ka Desi Gharelu Samadhaan

‘धात गिरना’ की समस्या का देसी घरेलू समाधान धातु रोग- बिना इच्छा के मल-मूत्र के समय हल्का-सा जोर लगाने पर पतला-पतला द्रव्य निकल जाता है, जिसे धातु रोग कहते हैं। धातु जाने की समस्या को शुक्रमेह के नाम से भी जाना जाता है। लेकिन ये होता किस वजह से है, यह बात समझना भी सरल …

+ Read More

Dhat Girne Ki Samasya Ko Ayurved Se Kare Door धात गिरने की समस्या को आयुर्वेद से करें दूर

Dhat Girne Ki Samasya Ko Ayurved Se Kare Door धात गिरने की समस्या को आयुर्वेद से करें दूर

धातु रोग परिचय- पाचन विकारों के कारण वृक्कों में क्षारीय वस्तुओं की मात्रा बढ़ जाती है। वृक्कों के छिद्र क्षार की अधिकता से आंशिक रूप से गलकर चैड़े हो जाते हैं, जिससे वृक्क पहले की भांति कार्य नहीं कर करते हैं। अतः अजीर्ण या अपच से बिना पचे पदार्थ मूत्र के साथ अनेक रंगों में …

+ Read More